no comments

WWW क्या है what is www in hindi ?

नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है www.aaosikheindia.com पर और मैं हूं वैभव श्रीवास्तव और आपको लेकर चलता हूं इंटरनेट से जुड़ी कुछ बेहतरीन खबरों की तरफ और बताते हैं www क्या है? What is world wide web? इसकी पूरी जानकारी आपको देते हैं।

what is www in hindi
what is www in hindi 

Www का नाम तो आपने नाम सुना ही होगा आप रोजाना इसे यूज भी करते हैं आप चाहे कोई भी ब्राउज़र जैसे गूगल क्रोम ओपेरा मिनी यूसी ब्राउजर बहुत सारे ब्राउज़र हैं जिसमें आप वेबसाइट ओपन करते हैं तो उसमें आपको जो भी वेबसाइट दी जाती है वह WWW की सहायता से ही वह वेबसाइट आपको प्राप्त होती है

तो इससे पहले जानते हैं WWW का फुल फॉर्म?

WWW का फुल फॉर्म वर्ल्ड वाइड वेब है हिंदी में इसकी बात की जाए तो तो पूरे विश्व में फैली हुई इंटरनेट की दुनिया ही world-wide-web है।

WWW वर्ल्ड वाइड वेब क्या है?

वर्ल्ड वाइड वेब WWW वेब ब्राउज़र का एक ऐसा माध्यम है जिसमें दुनिया की सारी वेबसाइट ओं का संग्रह है वर्ल्ड वाइड वेब में उपस्थित जितनी भी वेबसाइट हैं वह बिना WWW के नहीं चल सकती हैं इसमें आप जो भी चीजें इंटरनेट की दुनिया में सर्च करते हैं वह सारी चीजें इसमें उपलब्ध होती हैं

सारी चीजें इसमें से भी होती हैं यह एक वेबसाइट में जितने भी pages होते हैं जैसे फोटो होते हैं गाने होते हैं डाक्यूमेंट्स होते हैं वीडियोस होते हैं जो भी चीजें हैं आपकी वेबसाइट में होती हैं उन सभी का जो संग्रह होता है वह वर्ल्ड वाइड वेब WWW के पास होता है।

आपको बता दें वर्ल्ड वाइड वेब HTTP जोकि server की सहायता से वेबसाइट खुलने में मदद करता है। जिसका पूरा नाम Hyper text transfer protocol है और HTML इसका पूरा नाम Hyper Text Mark-up Language होता है व URL भी होता है जिसे आप Website भी बोल सकते हैं या Domain भी बोल सकते हैं इन सभी के माध्यम से वर्ल्ड वाइड वेब इंटरनेट की दुनिया में कार्य करता है बिना HTML की सहायता से कार्य नहीं कर सकता क्योंकि HTML मशीनी भाषा है जो की इसी के लिए प्रसारित की गई है।

WWW (World Wide Web) का इतिहास।

WWW के बारे में तो आपने जानकारियां प्राप्त ही कर ली आइए जानते हैं इसके इतिहास के बारे में जिसके आविष्कारक Sir Tim Berners-Lee थे जोकि सन 1989 में इस को प्रतिपादित किया।

Sir Tim Berners-Lee  का जन्म लंदन में हुआ था जो कि कंप्यूटर के एक बहुत बड़े साइंटिस्ट थे।
इन्हो HTTP पर हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकोल, URL{यूनिवर्सल रिसर्च लोकेटर} व HTML को भी प्रतिपादित किया। जिसकी सहायता से आज WWW (वर्ल्ड वाइड वेब) कार्य करता है।

Internet व Web Browser में क्या अंतर है?

इंटरनेट की सहायता से आप एक स्थान से दूसरे स्थान पर कुछ भी भेज सकते हैं जैसे फोटोस वीडियोस मैसेज डॉक्यूमेंट और बहुत सी चीजें हैं जो आप इंटरनेट की सहायता से भेज सकते हैं।

वेब ब्राउज़र वह होता है जिसकी सहायता से आप कोई भी वेबसाइट या कोई भी वेब पेज ओपन करते हैं तो बिना वेब ब्राउज़र के आप उसे ओपन नहीं कर सकते हैं कुछ वेब ब्राउज़र है जैसे ओपेरा मिनी गूगल क्रोम फायर फॉक्स वह इंटरनेट एक्सप्लोरर है या एक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर होता है।

URL (Universal Resources Locater) क्या है?URL को आप वेबसाइट भी बोल सकते हैं जिसकी सहायता से आप इंटरनेट की दुनिया में जो भी चीजें सर्च करते हैं what is www जैसे www.aaosikheindia.com जिसमें यह आपका यूआरएल है जिसकी सहायता से आप जो भी चीजें खोजना चाहते हैं वह आपको यूआरएल की सहायता से मिल जाएगी।

जब आप यूआरएल सर्च करते हैं तो यह आपको इंटरनेट प्रोटोकॉल की सहायता से ओपन हो जाती है जिसकी सहायता HTML व HTTP भी करता है।

इन्टरनेट और www में क्या अंतर है 

इन्टरनेट की शुरुआत 1960 में हो गयी थी जबकि www की खोज 1989 में सर Tim Berners Lee ने किया था मतलब की इन्टरनेट की शुरुआत पहले ही हो गयी थी इन्टरनेट एक हार्डवेयर से बना होता है लेकिन www जो है सॉफ्टवेर से बनता है 
        इन्टरनेट हार्डवेयर में Server ,Router ,Tower ,और satalite का इस्तेमाल होता है जिससे की हमारा इन्टरनेट चलता है लेकिन www hypertext, image,videos और webpage का इस्तेमाल करके बना होता है शरूआत के समय में इन्टरनेट को ARPANET के नाम से जाना जाता था बाद में इसका नाम इन्टरनेट पड़ा है और www का पुराना नाम NFSNET था इन्टरनेट का इस्तेमाल आप बिना www के कर सकते है लेकिन www का इस्तेमाल आप बिना इन्टरनेट के नहीं कर सकते है 
     
इन्टरनेट IP एड्रेस का इस्तेमाल करता है और www जो है HTTP का इस्तेमाल करता है और हमें webpage खोज कर देता है internet में कंप्यूटर को IP एड्रेस के जरिये खोजा जाता है लेकिन www में इनफार्मेशन को यूआरएल के जरिये Locate करते है internet vs www

तो आप लोग समझ गये होगे की  what is www in hindi और यह क्यों  जरूरी है इन्टरनेट के लिए और इसके बिना कोइ भी इन्टरनेट से नही जुड़ सकता है

आपको यह जानकारी पसंद आई होगी पसंद आई हो तो लोगों में इस को शेयर करिए और नीचे कमेंट करके बताइए आपका जानकारी कैसे लगी तो मिलते हैं ऐसे ही बढ़िया से आर्टिकल में धन्यवाद

Reply