Landmark Kya Hota Hai – Landmark किसे कहते है ?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

 

मील का पत्थर क्या हैं?

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आखिर लैंडमार्क क्या होता है और लैंडमार्क से क्या फायदे होते हैं और जब आप कह रहे होंगे तो आपने लैंडमार्क के बारे में सुना होगा लेकिन क्या आप लैंडमार्क से क्या फायदे हैं? नहीं पता है तो आज हम आपको इसी के बारे में बताते हैं

लैंडमार्क क्या होता है

लैंडमार्क क्या होता है -लैंडमार्क किसे कहते हैं?

अगर आप किसी जगह के बारे में बात कर रहे हैं तो आप जरूर लैंडमार्क के बारे में सुनेंगे या फिर जब भी कोई चीज खरीदने के लिए जाएं तो उस दुकान का कोई लैंडमार्क होता है जो वह जगह काफी मशहूर होती है जिससे आप उस जगह की तलाश में रहते हैं। लोकेशन📍 आसानी से पता लग जाता है।

या जब भी आप कुछ समान ऑनलाइन खरीद रहे हों तो आपको समय-समय पर नीचे दिए गए एक विकल्प के बारे में पता चल जाता है, जहां आपको अपने क्षेत्र के प्रसिद्ध स्टोर का नाम, स्कूल, मंदिर, या जो भी प्रसिद्ध स्थान मिलता है, लिखा होता है। उसे रखा गया है ताकि डिलिवरी के दौरान आपके घर का एड्रेस फर्श आसानी से बन सके। इस तरह की जो प्रचलित जगह है उसे उस क्षेत्र का मील का पत्थर कहा जाता है।

मील का पत्थर का मतलब (मीनिंग) हिंदी में जाने |

लैंडमार्क मीनिंग इन हिंदी: जब आप किसी जगह की जानकारी दे रहे हों तब उसके पास की जगह को मार्क करके जाते हैं तो वो मार्क की हुई लोकेशन उस जगह की लैंडमार्क जगह।

उदाहरण के लिए मेरा घर हमारे गांव के मंदिर के पास है ऐसे में हमने अपने दोस्त को अपने गांव का नाम बताया लेकिन उस गांव में मेरा घर कहां है उसे ढूंढने में उसे काफी दिक्कत होगी आपके गांव में तो कई घर होंगे लेकिन अगर गांव के नाम के साथ हमने ये भी बताया कि मेरे घर के पीछे मंदिर है तो हमारे दोस्त को मेरा घर ढूंढने में आसानी होगी

ऐसे ही मेरे गांव का मशहूर जगह मंदिर है और मेरे घर का लैंडमार्क मंदिर हो गया है तो इस तरह की जगह को लैंडमार्क कहा जाता है । तो अगर आपको नहीं पता था कि लैंडमार्क क्या होता है तो अब आप समझ जाएंगे |

मतलब आप समझ गए होंगे कि आप अपने घर का पता समय पर लगाते हैं जिसके पास कोई बड़ा मंदिर, मस्जिद, होटल या हॉस्पिटल या बड़ा मॉल हो तो आप अपने एड्रेस में कुछ इस तरह (उदा. वीमार्ट मॉल के पास) को लैंडमार्क के रूप में देखते हैं में लिख सकते हैं

आपके पते पर कोई चीज़ आ गई हो या कोई दोस्त, रिस्तेदार को आना हो तो आसानी से आपके पास पहुंच जाएगा, ऐसे पास के स्थान पर लैंडमार्क कहा जाएगा, मदद से किसी अन्य स्थान का पता आसानी से लग जाएगा। क्या हो गया है आपने जान लिया है अब इसके फायदों के बारे में जानिए |

लैंडमार्क के फायदे –

  • लैंडमार्क से आप किसी भी जगह का पता आसानी से लगा सकते हैं
  • किसी भी स्थान के लैंडमार्क से उस स्थान पर अधिकांश समय नहीं लगता है जिससे समय की बचत होती है
  • लैंडमार्क रहने से एक नाम के दो जगह होने पर भी उसे ढूंढने में समस्या नहीं आती है

 

निष्कर्ष –

तो उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आएगी और अच्छे तरीके से समझ आएगी। हमने बताया है कि लैंडमार्क क्या होता है और इसके फायदे क्या होते हैं। साथ में अगर कोई प्रश्न पूछ रहा हो तो आप नीचे पूछ सकते हैं और इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारी हमारे ब्लॉग पर मिलती है जिससे आपको इसी तरह की ज्ञान की बातें सिखाई जा सकती हैं, यह पर मेरा उद्देश्य है कि जो चीजें मैं जानता हूं वो सब बाते आपको इस ब्लॉग के माध्यम से सीखें पाओ ताकि आपको नॉलेज की कमी न हो और आप जहां जाएं शान से सर उठा के किसी भी प्रश्न का उत्तर दे सकें |

इसे जरूर पढ़ें

इंटरनेट क्या है?

गूगल का मालिक कौन है?

Leave a Comment